भारत में कुल कितने राज्य हैं | All states in India

भारत क्षेत्रफ़ल की द्रष्टि से दुनिया का 7वां सबसे बड़ा देश और वहीं जनसँख्या के आधार पर दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है। भारत देश अनैक राज्यों के संघों से मिलकर बना एक विभिन्न प्रकार की संस्कृति, परंपरा, मान्यता, धर्म और विशेषताओं के साथ अनैक भाषाओ का सम्रद्धता भरा देश बनाता हैं। आप इस लेख में भारत में कुल कितने राज्य हैं | All states in India और उनकी राजधानियाँ एवं सभी राज्यों की आधिकारिक भाषाओं के बारे में भी जानेंगे।   

भारत में कुल कितने राज्य हैं के अलावा इस लेख के अंत तक आप बहुत ही सरल रूप में यह भी जानेंगे की ‘पूर्ण राज्य‘ (STATE) और ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ (UNION TERRITORIES) में क्या अंतर होता है? और क्यों हमें ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ बनाने की जरूरत पड़ी? तो हम उम्मीद करते हैं कि आप इस लेख को अंत तक पढकर अपनी जानकारी को जरूर मजबूत करेंगे।

भारत में कुल कितने राज्य हैं – All states in India in hindi

भारत में कुल राज्यों की की संख्या की बात करें तो 2021 के अनुसार भारत में कुल 36 राज्य हैं। जिसमे 28 पूर्ण राज्य(States) हैं तथा 8 ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ (Union Territories) हैं।

भारत में कुल राज्यों की सूची – Indian all states list

राज्य राजधानियाँ आधिकारिक भाषाएँ 
आंध्र प्रदेश अमरावती तेलुगु
अरुणाचल प्रदेश ईटानगर अंग्रेजी
आसाम दिसपुर असमिया
बिहार पटना हिंदी
छत्तीसगढ़ रायपुर हिंदी
गोवा पणजी कोंकणी, अंग्रेजी
गुजरात गांधीनगर गुजराती
हरियाणा चंडीगढ़ हिंदी
हिमाचल प्रदेश शिमला हिंदी
झारखंड रांची हिंदी
कर्नाटका बेंगालुरु कन्नड़
केरला तिरुवनंतपुरम मलयालम
मध्य प्रदेश भोपाल हिंदी
महाराष्ट्र मुंबई मराठी
मणिपुर इम्फाल मणिपुरी
मेघालय शिलोंग अंग्रेजी
मिजोरम आइजोल मिज़ो, अंग्रेजी, हिंदी
नागालैंड कोहिमा अंग्रेजी
ओडिशा भुबनेश्वर उड़िया
पंजाब चंडीगढ़ पंजाबी
राजस्थान जयपुर हिंदी
सिक्किम गंगटोक सिक्किमी, अंग्रेजी, नेपाली
तमिल नाडू चेन्नई तमिल
तेलंगाना हैदराबाद तेलुगु, उर्दू
त्रिपुरा अगरतला कोकबोरिक (त्रिपुरी), बंगाली, अंग्रेजी
उत्तर प्रदेश लखनऊ हिंदी
उत्तराखंड देहरादून (शर्दी), गैरसैंण (गर्मी)हिंदी
पश्चिम बंगाल कोलकाता बंगाली, अंग्रेजी

भारत के ‘केन्द्र-शासित प्रदेशों’ की सूची – All Indian Union Territories list  

केंद्र-शासित प्रदेश राजधानियाँ आधिकारिक भाषाएँ 
दिल्ली नई दिल्ली हिंदी, अंग्रेजी
चड़ीगढ़ चंडीगढ़ अंग्रेजी
अंडमान & निकोबार द्वीप समूह पार्ट ब्लेयर हिंदी, अंग्रेजी
दादर & नगर हवेली और दमन & दीव दमन हिंदी, गुजरती, कोंकणी, मराठी
लक्षद्वीप कवरत्ती अंग्रेजी, मलयालम
पुदुचेरी (पोंडिचेरी) पोंडिचेरी तमिल, अंग्रेजी, फ्रेंच
जम्मू और कश्मीर श्रीनगर (गर्मी), जम्मू (शर्दी)कश्मीरी, उर्दू, हिंदी, डोगरी, अंग्रेजी
लदाख लेह (गर्मी), कारगिल (शर्दी) हिंदी, अंग्रजी

इसे भी जाने: पूरी दुनिया में कुल कितने देश हैं?

‘पूर्ण राज्य’ और ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ में क्या अन्तर होता है? | Difference between state and union territories in India

जैसे कि आप उपर्युक्त लेख से जान गये हैं कि भारत में कुल 36 राज्य हैं। जिसमे 28 पूर्ण राज्य तथा 8 ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ हैं। तो आगे पढते रहिये क्योंकि आगे आप जानेंगे कि भारत में ‘पूर्ण राज्य’ (STATE) और ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ (UNION TERRITORY) किस आधार पर उल्लेखित  किये जाते हैं? –   

भारतीय ‘पूर्ण राज्यों’ का सरकारी ढांचा क्या है?

भारत में पूर्ण राज्यों की बात करें तो इन राज्यों में ‘राज्य की जनता’ द्वारा अपनी खुद की नियुक्त की हुई सरकार होती है जोकि ‘राज्य-सरकार’ (State Government) के रूप में जानी जाती है। ‘राज्य-सरकार’ का प्रमुख और मुखिया मुख्यमंत्री (Chief Minister) होता है। जिसे राज्य में हर प्रकार का फ़ैसला लेने का अधिकार होता है। ‘राज्य-सरकार’ के पास अपने राज्य में नये कानून बनाने और उनमे संसोधन करने का पूर्ण अधिकार होता है।

प्रत्येक पूर्ण राज्य (State) में एक विधान-सभा (Assembly) भी होती है। जिसमे विधायक चुने जाते है; जिससे मुख्यमंत्री नियुक्त होता है। राज्य में विकास-कार्य आदि का निर्णय मुख्यमंत्री अपने ‘मंत्री-मंडल’ की मदद से लेता है। इसके अलावा राज्य का एक कार्यकारी प्रमुख होता है जिसे राज्यपाल (Governor) के नाम से जाना जाता है। 

भारतीय ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ का सरकारी ढांचा क्या है?

भारत में ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ (Union territories) की बात करें तो इन राज्यों में अपनी ख़ुद की सरकार नहीं होती है वल्कि इन राज्यों में सीधे तौर पर भारत-सरकार (केंद्र-सरकार) का शासन होता है। इसके अलावा सभी ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ में ‘भारत का राष्ट्रपति’ केंद्र-सरकार की सिफ़ारिस पर एक ‘प्रशासक’ (Administrator) या ‘उप-राज्यपाल’ (Lieutenant Governor) नियुक्त करता है। मतलब ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ में सबसे प्रमुख प्रशासक/उप-राज्यपाल होता है।  

वहीं दिल्ली, ‘जम्मू और कश्मीर’, लदाख, ‘अंडमान निकोबार और द्वीप समूह’ और पुदुचेरी का शासन उप-राज्यपाल (LG) के हाथों में होता है; तो बाकी के अन्य तीन ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ में शासन प्रशासकों (Administrator) के हाथों में होता है।

बता दें कि ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ दिल्ली और पुदुचेरी के अलावा बाक़ी के 6 केंद्र-शासित प्रदेशों के पास अपनी कोई विधान-सभा (Assembly) नहीं है।  

एक उदहारण से ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ की शक्ति  समझते हैं –

‘केंद्र-शासित प्रदेश’ दिल्ली का चुनाव होता है और मंत्री-मंडल (Cabinet) और मुख्यमंत्री भी होता है। लेकिन फिर भी दिल्ली में पुलिस और ज़मीन से जुड़े अधिकार मुख्यमंत्री के अंतर्गत नहीं आते हैं; मतलब यह फ़ैसले राज्य-सरकार नहीं वल्कि केंद्र-सरकार लेती है। इसके अलावा इस राज्य की विधान-सभा को कोई बिल पास करने से पहले राष्ट्रपति से मंजूरी लेनी पड़ती है। इन सभी चीजों के अलावा सभी ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ का कार्यकारी प्रमुख राष्ट्रपति होता है।  

‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ का गठन क्यों हुआ था?

यदि ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ की गठन की बात करें तो इन्हें बनने का कोई निश्चित तथ्य नहीं है। लेकिन हम कह सकते हैं कि ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ का निर्माण जरूरतों के अनुसार हुआ था।  

जैसे कि ‘अंडमान एंड निकोबार द्वीप समूह’ और लक्षद्वीप का गठन भोगोलिक कारणों से हुआ था क्योंकि यह दोनों ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ भारत की ज़मीनी सीमा से दूर समुद्र में स्थित हैं। इसके अलावा ‘दादर एंड नगर हवेली और दमन एंड दीव’ तथा पुदुचेरी का गठन संस्कृतिक कारणों से हुआ क्योंकि यह ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ भारत में अपनी सबसे अलग सांस्कृतिक पहचान के लिए जाने जाते हैं। इनके अलावा बाकी के ‘केंद्र-शासित प्रदेशों’ का निर्माण प्रशासनिक और राजनीतिक कारणों से हुआ था।  

FAQs: बार-बार पूछे जाने वाले प्रश्न

क्षेत्रफ़ल के अनुसार भारत का सबसे बड़ा राज्य कौन सा है?

क्षेत्रफल के आधार पर भारत का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान (Rajasthan) है।

क्षेत्रफल के अनुसार भारत का सबसे छोटा राज्य कौन सा है?

क्षेत्रफ़ल के आधार पर भारत का सबसे छोटा राज्य गोवा (Goa) है।

जनसँख्या के आधार पर भारत का सबसे बड़ा राज्य कौन सा है?

जनसँख्या की द्रष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) है।

जनसँख्या के आधार पर भारत सा सबसे छोटा राज्य कौन सा है?

जनसँख्या की द्रष्टि से भारत का सबसे छोटा राज्य सिक्किम (Sikkim) है।

क्षेत्रफ़ल के आधार पर भारत का सबसे बड़ा एवं छोटा केन्द्रशासित प्रदेश कौन सा है?

भारत में क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) है और सबसे छोटा ‘केद्र-शासित प्रदेश’ लक्षद्वीप (Lakshadweep) है।

जनसँख्या के आधार पर भारत का सबसे बड़ा एवं छोटा राज्य कौन सा है?

भारत में जनसँख्या के आधार पर सबसे बड़ा ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ दिल्ली (Delhi) और सबसे छोटा ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ लक्षद्वीप (Lakshadweep) है।

निष्कर्ष: The Conclusion

हम उम्मीद करते हैं कि यहाँ तक पढकर आपने अपनी जानकारी को जरूर अपडेट किया होगा। जिसमे हमने भारत में कुल कितने राज्य हैं | All states in India के अलावा सभी राज्यों की आधिकारिक भाषाबद्ध सूची और पूर्ण राज्य और ‘केंद्र-शासित प्रदेश’ में क्या अन्तर होता है? को भी कम और बहुत ही सरल शब्दों में समझाया है। यदि आपका इस लेख से सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट करके अवश्य बताएँ।

Leave a Reply